Why Do We Wear Feroza (Turquoise) Gemstone? Know about It and The Benefits of Wearing It

आखिर क्यों पहनते हैं असली फिरोजा रत्न? जानिए इसके बारे में और इसको पहने से होने वाले लाभ

फिरोजा रत्न को अंग्रेजी भाषा में टरकोइज जेमस्टोन (Turquoise Gemstone) भी कहा जाता है | बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान के एक्शन सीन पर जमकर तालियां बजाने वाले उनके फैंस उनके बारे में हर एक बात जानना चाहते हैं। उनके फैंस उनकी पर्सनैलिटी, बॉडी के साथ-साथ उनके ब्रेसलेट को भी कॉपी करते हैं, लेकिन क्या आप उनके ब्रेसलेट में लगे चमत्कारी फिरोजी रत्न के बारे में जानते हैं ? शायद नही ! चलो कोई बात नहीं, तो हम आपको बता देते हैं कि उस रत्न का नाम है 'फिरोजा रत्न' (Turquoise Gemstone) , जिसके बिना उनका ब्रेसलेट अधूरा है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सभी को फिरोजा धारण करने की सलाह नहीं दी जाती बल्कि इसका उपयोग भाग्यशाली लोगों के द्वारा ही किया जाता है। जो लोग अपने प्रेम संबंधों में सफल होना चाहते हैं या जिनका प्रोफेशन - क्रिएटिविटी, मीडिया और मनोरंजन की दुनिया से जुड़ा होता है, उन्हें फिरोजा रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है।

कब पहना जाता है फिरोजा रत्न ?

ज्योतिषाचार्य के अनुसार फिरोजा रत्न को पहनने का सबसे शुभ दिन शुक्रवार का दिन माना जाता है। इसके अलावा इस रत्न को गुरुवार और शनिवार को भी धारण कर सकते हैं। इसे प्रायः सूर्योदय के समय ही पहना जाता है।

कैसे पहचाने असली और नकली फिरोजा रत्न में फर्क ?

आपके नजदीकी बाजार में फिरोजा रत्न की तरह दिखने वाले कई रत्न उपलब्ध हैं। उन रत्नों में असली फिरोजा रत्न की पहचान करने का सबसे आसान तरीका ये होता है कि वो चिकना नहीं होता असली फिरोजा रत्न का रंग कुछ हरा, कुछ आसमानी और कुछ नीला सा दिखता है और वो समतल नहीं बल्कि कुछ उभरा हुआ और कुछ खुरदुरा सा होता है।

सबसे अच्छी बात तो यह हैं कि आप फिरोजा को किसी विश्वसनीय स्थान से खरीदे. इस बारे में आपको सलाह दी जाती हैं कि एस्ट्रोदेवम् डॉट कॉम (AstroDevam.com) जो उच्च गुणवत्ता के रत्नों के निर्यात के लिए भारत सरकार से प्रमाणित हैं एवं रत्नों की क्वालिटी के लिए आई एस ओ सर्टिफिकेट प्राप्त हैं, से संपर्क कर असली फिरोजा रत्न आसानी से प्राप्त कर सकते हैं |

फिरोजा रत्न पहनने के कुछ फायदे -

  • अगर प्रेम सम्बन्धों में अनबन चल रही है या पति-पत्नी में गहरा मतभेद चल रहा है तो आप दोनों को फिरोजा रत्न शुभ मुहूर्त देखकर धारण करना चाहिए।
  • फिरोजा रत्न धारण करने वाले को आंखों से संबंधित समस्या नहीं होती। इसके अलावा दिल की बीमारी और गुर्दे (Kidney) संबंधी बीमारी को दूर रखता है।
  • रक्तचाप का ज्यादा या कम होना जैसी कोई भी दिक्कत अगर आपको पहले से ही है तो फिरोजा रत्न को धारण करने के बाद कम होने लगती है। समय के साथ आपकी ये बीमारी भी खत्म हो जाएगी।
  • अगर आपकी कुंडली में राहु/केतु दोष हैं तो फिरोजा रत्न रामबाण है। किसी अच्छे ज्योतिषाचार्य की सलाह लेकर आपको इस रत्न को जरूर धारण करना चाहिए।
  • धनु, मीन और कुंभ राशि के जातकों को फिरोजा रत्न जरूर धारण करना चाहिए।
This entry was posted in Religious On .

Comments

    There are no comments under this post.

Leave A reply