वास्तु के अनुसार फोटो वास्तु दोष दूर करती है (How to remove Vastu defects using pictures in the House?)

 

वास्तु शास्त्र एवं आचार्य कल्कि कृष्णन के अनुसार वास्तु न सिर्फ घर को बल्कि आपके संपूर्ण जीवन को भी प्रभावित करता है। वास्तुशास्त्र में घर में सकारात्मक ऊर्जा के संचार के लिए फोटो या पेंटिंग लगाते समय न केवल दिशाओं का बल्कि इनके विषय का भी स्पेशल ध्यान रखने की बात की गई है।

वास्तुशास्त्र की मान्यताओं के अनुसार आइए जानते हैं घर में कहां और कैसी पेंटिंग लगानी चाहिए:    

  • रसोई घर आग्नेय कोण में नहीं है तो संत व ऋषि मुनियों की तस्वीर लगाए।
  • रामायण या महाभारत के युद्ध अथवा युद्ध प्रसंग, के चित्र,  वैराग्य,  क्रोध,  डरावना,  वीभत्स, दुख की भावना वाला,  सूखे पेड़, करुण रस से ओतप्रोत स्त्री,  रोता बच्चा,  अकाल,  ऐसी कोई भी चित्र घर में न लगायें।  
  • घर का उत्तर पूर्व (नार्थ-ईस्ट) कोना (ईशान्य कोण) में बहते पानी का चित्र लगायें,लाभदायक होगा | 
  • घर में रोगियों का ज्यादा प्रभाव है तो दक्षिण दीवार पर भगवन हनुमान जी का लाल रंग का चित्र लगाएं। कुछ ही दिनों में हनुमान जी का आशीर्वाद आपको मिलने लगेगा। साथ ही घर के सदस्यों का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।
  • पूरे परिवार क़ी तस्वीर पूर्व या उत्तर दिशा मैं लगायें।
  • व्यापार में सफलता पाने के लिए उद्योग व कारोबार स्थल पर सफल और नामी व्यापारियों के चित्र लगाएं।
  • पढने वाले कक्ष में माँ सरस्वती , वीणा, हंस अथवा कोई महापुरुषों की तस्वीर लगाएं।
  • पूर्वजों की तस्वीर देवी देवताओं व मंदिर के साथ ना लगाएं।
  • ईशान कोण में शौचालय होने पर उसके बाहर सिंह या शेर का तस्वीर लगाएं।
  • रसोई घर में माता अन्नपूर्णा का चित्र शुभ माना जाता है।
  • दाम्पत्य जीवन को खुश बनाने के लिए घर में राधा कृष्ण की तस्वीर शयन कक्ष मे लगाएं।
  • घर की तिजोरी के पल्ले (Locker) पर बैठी हुई लक्ष्मी जी की चित्र जिसमें दो हाथी सूंड उठाए नजर आते हैं, लगाना बड़ा शुभ मन जाता है। तिजोरी वाले कमरे का रंग ऑफ व्हाइट या क्रीम रखना चाहिए। 
  • घर में डूबती या लहरों में डगमगाती हुई नाव का फोटो न लगाएं ये वास्तु के अनुसार अशुभ माना जाता है।
  • फव्वारे और पानी की फोटो घर में नहीं लगाना चाहिए।
  • घर में किसी भी हिंसक जानवर का फोटो कभी भी नहीं लगाना चाहिए। इससे हमारा स्वभाव भी उग्र हो जाता है। घर में क्लेश बढ़ जाती है।  
  • अगर किसी का मन चंचल व बहुत ज्यादा अशांत रहता है तो अपने घर के उत्तर-पूर्व (North-East) में ऐसे बगुले का चित्र लगाएं जो ध्यान मुद्रा मैं हो।
  • ऐसे नवदम्पत्ति (New Married Couple) जो संतान सुख पाना चाहते हैं वे श्रीकृष्ण का बाल रूप दर्शाने वाली चित्र अपने शयन कक्ष में लगाएं।
  • घर में सकारात्मक ऊर्जा और सोच को बढ़ावा देने के लिए, सनराइज, लैंडस्केप या हरा-भरा जंगल,  बच्चों की तस्वीर आदि जैसे पेंटिंग या चित्र पश्चिम दिशा में लगाना सर्वश्रेष्ठ माना गया है।
  • स्वर्गीय परिजनों के तसवीर दक्षिण की दीवार पर लगाने से सुख समृधि बढ़ेगी सोने का कमरा आग्नेय कोण में हो तो पूर्वी कोण के मध्य में सागर का चित्र लगाए।

अपने शयन कछ की पूर्वी दीवार पर उदय होते हुए सूर्य की और पंक्तिबद्ध उड़ते हुए पक्षियों के तस्वीर लगाएं। अकर्मण्य, निराशा, आलस से भरा हुआ, आत्मविश्वास में कमी अनुभव करने वाले व्यक्तियों के लिए यह अनोखा और प्रभावशाली है। घर में हमेशा ऐसा चित्र लगाना चाहिए जो सकारात्मक उर्जा का स्त्रोत हो, जिसे देखकर मन प्रसन्न हो और सभी नकारात्मक सोच दूर हो जाए।

सकारात्मक, शांत व कई प्रकार के शुभ चित्रों अथवा पोस्टर की प्राप्ति के लिए निःसंकोच एस्ट्रोदेवम डॉट कॉम (AstroDevam.com) से संपर्क कर सकते हैं। 

This entry was posted in Astrology On .

Comments

    There are no comments under this post.

Leave A reply